September 2022
M T W T F S S
 1234
567891011
12131415161718
19202122232425
2627282930  
October 5, 2022 10:03 pm
October 5, 2022

Khullamkhullakhabar

Khullamkhullakhabar

सलेमपुर घाट पर मिला लावारिश शव

सलेमपुर रामघाट में मिला लावारिस शव

रिपोर्टर अहद मदनी

संपादन ~ चुन्नू सिंह

पीरपैंती, भागलपुर

पीरपैंती थाना क्षेत्र के सलेमपुर गांव के निकट कमलघोराई रामघाट से उत्तर दिशा बांस बिट्टा के पास  शनिवार को एक लावारिश शव की सूचना पीरपैंती थाना की पुलिस को मिला । सलेमपुर पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि घनश्याम दास के सूचना पर पीरपैंती थाना के दरोगा अवधेश चौधरी और दरोगा कन्हैया कुमार अपने दलबल के साथ गंगा घाट पर पहुंच कर शव को पानी में  निकलवाया ।  शव लगभग आधा गल गया था। शव को पत्थर से बांधकर पानी में डुबाया गया था। काफी मेहनत के पश्चात शव को पानी से बाहर निकाला गया। मुखिया प्रतिनिधि घनश्याम दास ने बताया की ग्रामीणों द्वारा उन्हें सूचना मिली थी की पानी में किसी का शव पिछले कई दिनों से किनारे में लगा हुआ है। तब इसकी सूचना उन्होंने पीरपैंती थाना को फोन कर दिया। शव की पहचान अभी तक नहीं हो पाया है। वहीं पीरपैंती थाना की पुलिस शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजने की प्रक्रिया में लगी हुई थी । इधर कमलघोराई राम घाट के निकट ही बसे कमलघोराई गांव के बाशिंदों ने बताया की शव लगभग 5~6 दिनों से वहां पड़ी हुई है । तीन दिनों से वह बहुत बदबू दे रही थीं। ज्ञात रहे की हिंदुओं में भी गरीबी की वजह से कई लोग शव को नहीं जला पाते हैं और शव को या तो गंगा या नदी किनारे मिट्टी में गाड़ देते हैं या जल प्रवाह कर देते हैं यानी जल में उसे पत्थल से बांध कर डूबा देते हैं । हिंदू धर्म में कई जगहों पर जल प्रवाह की भी परंपरा और मान्यता है । पिरपैंती में भी कई ऐसे गांव हैं जहां के गरीब तबके के हिंदू या तो गरीबी की वजह से शव दफनाते हैं या उसे मिट्टी में गाड़ देते हैं या जल प्रवाह करते हैं । हां उसके पहले मुंह में अग्नि कर्म जरूर करते हैं । इस शव के बारे में कमलघोराई के कुछ ग्रामीणों ने बताया की 5~6 दिन पहले  साहिबगंज जिले के मंडरो प्रखंड के मंडरो इलाके के तरफ के लोग यहां शव की संस्कार करने आए थे और ये शव शायद उनके द्वारा ही जल में प्रवाहित किया गया था । परंतु नदी में जल कम होने के कारण शव जल से बाहर आ गया और बदबू करने लगा ।

0Shares

You may have missed

Khullam Khulla Khabar Copyright © All rights reserved. 2022